PM मोदी बोले, हिमाचल की रोटी खाई है…कर्ज चुकाना है, खुद को बताया देवभूमि का बेटा

 

प्रधानमंत्री ने लुहणू मैदान में जनसभा के संबोधन का आगाज ‘जय मां नैना देवी’ के उद्घोष के साथ किया। मोदी ने कहा कि उनसे पूर्व अनुराग ठाकुर ने कहा मोदी  ने किया। फिर नड्डा  व जयराम ठाकुर ने भी यही बात दोहराई। लेकिन ये मोदी ने नहीं किया, बल्कि आपने स्वयं किया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि दिल्ली में आपकी वोट मुझे मिली तो हिमाचल में आपने मेरे साथियों को सहयोग दिया। इसका नतीजा ये हुआ कि जो विकास कार्य व योजनाएं हिमाचल को भेजी, उन्हें जयराम  ठाकुर तेजी से दौड़ाते रहे। फलस्वरूप आपको विकास मिला। प्रधानमंत्री ने कहा कि जब वो हिमाचल आया करते थे तो एक यूनिवर्सिटी व आईजीएमसी व टांडा मेडिकल काॅलेज हुआ करता था। इसलिए हिमाचलियों को मेडिकल सुविधाओं के लिए चंडीगढ व दिल्ली का रुख करना पड़ता था। लेकिन आज डबल इंजन सरकार की वजह से न केवल उच्च शिक्षण संस्थान मौजूद हैं, बल्कि एम्स जैसे संस्थान भी आ गए हैं। मोदी ने कहा कि ये एम्स ‘ग्रीन एम्स’ के रूप में पहचान रखेगा। एक पुरानी घटना का स्मरण करते हुए मोदी ने कहा कि 35 साल पहले ऊना के नजदीक एक रेलवे लाइन का सर्वे होना था, ये कार्य लटका रहा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि रणसिंघा युद्ध में विजय का प्रतीक है। ये शानदार अनुभव है कि जब आज विजयदशमी के पावन अवसर पर रणसिंघा बजाने का मौका मिला। प्रधानमंत्री ने इस बात का भी जिक्र किया कि वो कुल्लू दशहरा में हिस्सा लेने जा रहे हैं, जहां वो भगवान रघुनाथ जी से देशहित के लिए प्रार्थना करेंगे। गौरतलब है कि रणसिंघा मंडी रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेंट किया जाना था, लेकिन मंडी रैली रद्द हो गई थी। ये जानकारी भी सामने आई थी कि कुल्लू के कलाकारों द्वारा प्रधानमंत्री को भेंट करने के लिए रणसिंघा खास तौर पर तैयार किया गया था।

    

मोदी ने कहा कि अटकने, लटकने का जमाना चला गया है, ये तो आपका बेटा है जो हिमाचल की तकदीर बदल रहा है। उन्होंने कहा कि 2014 से पहले तक हिमाचल में तीन मेडिकल काॅलेज थे। मात्र 8 साल में ये संख्या 8 हो गई है। प्रधानमंत्री ने कहा कि जब नड्डा आरोग्य मंत्री थे, तब वो यहां एम्स का शिलान्यास कर गए। हर कोई जानता है कि हिमाचल जैसे पहाड़ी प्रदेश में निर्माण कार्य कितना कठिन होता है, इस निर्माण कार्य के दौरान कोविड का सामना भी करना पड़ा। इन तमाम कठिनाईयों के बावजूद समयबद्ध कार्य पूरा किया गया। मोदी ने कहा कि मेडिकल डिवाइस पार्क के लिए चार राज्यों को चुना गया। मोदी ने कहा कि मेडिकल डिवाइस पार्क खोलने के लिए पूरा देश सामने था, करोड़ों की आबादी है लेकिन निर्माण के लिए हिमाचल को चुना गया। इससे हिमाचल में न केवल करोड़ों का निवेश आएगा, बल्कि रोजगार के अवसर भी मिलेंगे। प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने हिमाचल की रोटी खाई है, कर्ज चुकाना ही है। मोदी ने कहा कि भारत में मेडिकल टूरिज्म तेजी से बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि जब इलाज के लिए बाहर से लोग हिमाचल आएंगे तो उन्हें बेहद ही उपयुक्त वातावरण में इलाज मिलेगा। लिहाजा, हिमाचलवालों के दोनों हाथ में लड्डू होगा।

    

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने करीब 5 से 7 मिनट हिमाचल से जुड़े विकास कार्यों की भी चर्चा की। साथ ही कहा कि देश आज हिमाचल के मुख्यमंत्री की सामाजिक सुरक्षा को लेकर प्रशंसा कर रहा है। शायद ही राज्य में कोई परिवार होगा, जिसे पैंशन न मिल रही हो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैक्सीनेशन को लेकर भी जयराम ठाकुर की पीठ थपथपाई। प्रधानमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री ने आपकी जिंदगी की सुरक्षा को लेकर चिंता की है। प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्य में अधोसंरचना के विकास को लेकर व्यापक कदम उठाए जा रहे हैं। सुरंगों व सड़कों का निर्माण हो रहा है। डिजिटल कनेक्टिीविटी को भी बढ़ाया गया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि अब देश में मेड इन इंडिया 5 जी सेवाएं शुरू हो चुकी हैं, इसका लाभ जल्द हिमाचल को मिलेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि ड्रोन नीति बनाने वाला हिमाचल देश का पहला राज्य है। आखिरी पंक्तियों में भी प्रधानमंत्री ने दोहराया कि आज रणसिंघा बजाकर विजय का आगाज किया है। निश्चित तौर पर प्रधानमंत्री का इशारा विधानसभा चुनाव की तरफ ही था।

     

लुहणू मैदान में केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने संबोधन किया। इसके बाद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा अपने गृह निर्वाचन जिला में संबोधन के दौरान भावुक भी नजर आए। प्रधानमंत्री को संबोधन करते हुए कहा कि आपने मुझ जैसे  व्यक्ति को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया, इसके लिए सदैव ऋणी रहेंगे। नड्डा ने कहा कि ये आपकी ही दरियादिली है कि मुझे राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाकर हिमाचल जैसे छोटे से पहाड़ी प्रदेश को राजनीतिक ताकत प्रदान की। नड्डा ने पंडाल में मौजूद लोगों से पूछा कि क्या आपने कांग्रेस के समय में ये देखा है कि शिलान्यास भी हो जाए और उदघाटन भी। प्रधानमंत्री जी ने ये कर दिखाया है। लिहाजा अब चुनाव में भी रिवाज बदलना है। नड्डा ने सिरमौर के हाटी समुदाय को एसटी का दर्जा देने पर कहा कि बरसों से ये मामला लटका हुआ था, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मांग को पूरा कर दिखाया है। प्रधानमंत्री के संबोधन से पूर्व  हिमाचल में विकास के सफर को चलचित्र के माध्यम से पेश किया गया। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बात होती है तो सब बातें पीछे छूट जाती हैं। सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री ने हिमाचल के विकास के लिए हर विकास उपलब्ध करवाया है। इसी दौरान हाइड्रो इंजीनियरिंग काॅलेज का भी उदघाटन किया गया। साथ ही पिंजौर-नालागढ़ फोरलेन व नालागढ़ मेडिकल डिवाइस पार्क का शिलान्यास किया गया। गौरतलब है कि पिंजौर-नालागढ़ फोरलेन हाईवे की दूरी 31 किलोमीटर होगी। इस मौके पर राज्यपाल राजेंद्र आर्लेकर, सांसद किशन कपूर, राज्यसभा सांसद इन्दू गोस्वामी,भाजपा प्रदेशाध्यक्ष भी मौजूद रहे।

  

 

Vishal Verma

20 वर्षों के अनुभव के बाद एक सपना अपना नाम अपना काम । कभी पीटीसी चैनल से शुरू किया काम, मोबाईल से text message के जरिये खबर भेजना उसके बाद प्रिंट मीडिया में काम करना। कभी उतार-चड़ाव के दौर फिर खबरें अभी तक तो कभी सूर्या चैनल के साथ काम करना। अभी भी उसके लिए काम करना लेकिन अपने साथियों के साथ third eye today की शुरुआत जिसमें जो सही लगे वो लिखना कोई दवाब नहीं जो सही वो दर्शकों तक