शिलाई को राजधानी शिमला से जोड़ने वाला मुख्य राजमार्ग अवरुद्ध बहाल होने में लगेंगे 2 सप्ताह

बीते तीन दिनों से लगातार हो रही बरसात के चलते हुए भूस्खलन के कारण शिलाई विधानसभा क्षेत्र को प्रदेश की राजधानी शिमला से जोड़ने वाला मुख्य राज्य राजमार्ग रोनहाट के समीप यातायात की आवाजाही के लिए अवरुद्ध हो गया है। इसके चलते वाहन चालकों और यात्रियों को वाया रोहाणा-सैंज खड्ड वैकल्पिक मार्ग से होकर क़रीब 20 किलोमीटर का अतिरिक्त सफ़र तय करके अपने गंतव्य तक पहुंचने में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।वीरवार को रोनहाट से क़रीब तीन किलोमीटर दूर अंबोटा नामक स्थान पर सड़क में दरारें आने के कारण एहतियात के तौर पर सोलन-मीनस राज्य राजमार्ग को सभी वाहनों की आवाजाही के लिए बंद कर दिया गया था। इसके बाद शुक्रवार रात को सड़क का आधा हिस्सा भूस्खलन के कारण धंसकर गिर गया।

              

बताया जा रहा है की उपरोक्त सड़क में एक तरफ़ गहरी खाई तो दूसरी तरफ़ ऊंचा मजबूत पहाड़ है। ऐसे में पहाड़ी को काटकर या खाई की तरफ से डंगा (सुरक्षा दीवार) का निर्माण करके ही सड़क पर यातायात को पुनः बहाल किया जा सकता है। इसके अलावा रास्त-मानल-चुनोटि, नैनीधार-शंखोली-रास्त, खड्काहं-भोड़-खाड़ी आदि संपर्क मार्ग भी जगह-जगह भूस्खलन के कारण अवरुद्ध हो गए हैं। उधर, लोक निर्माण विभाग उपमंडल रोनहाट के कनिष्ठ अभियंता लाल सिंह चौहान ने बताया की सोलन-मीनस राज्य राजमार्ग पर छोटे वाहनों की आवाजाही शुरू करवा दी गई है, जबकि बस और ट्रक सहित अन्य बड़े वाहनों के लिए उपरोक्त सड़क को बहाल करने में क़रीब दो सप्ताह का समय लग सकता है। उन्होंने सभी लोगों से सहयोग करने की अपील करते हुए बताया कि सभी संपर्क मार्गों से भूस्खलन का मलबा हटाने का काम युद्ध स्तर पर किया जा रहा है।

   

Vishal Verma

We’ve built a community of people enthused by positive news, eager to participate with each other, and dedicated to the enrichment and inspiration of all. We are creating a shift in the public’s paradigm of what news should be.