मंत्रिमंडल में सभी को जगह संभव नहीं, बिलासपुर के विकास कार्य को रुकने नहीं दिया जाएगा राजेश धर्मानी

विधायक घुमारवीं एवं पूर्व सीपीएस राजेश धर्मानी ने आज कहां की प्रदेश मंत्रिमंडल में सभी विधायकों को जगह मिले यह संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि कैबिनेट विस्तार में मुहर लगने से पहले समाचार पत्रों में उनके मंत्री बनने की खबर प्रकाशित होती रही जिसके वजह से  कैबिनेट विस्तार में जगह नहीं मिलने पर कार्यकर्ताओं द्वारा अपनी आशा के अनुरूप विचार व्यक्त किए  है। उन्होंने कहा कि मेरे लिए मंत्री पद महत्वपूर्ण नहीं है मेरा मकसद घुमारवीं व बिलासपुर का विकास करना है। मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू और सभी मंत्रिमंडल के सहयोग से घुमारवीं व बिलासपुर जिला का विकास किया जाएगा और पुराने सभी विकास कार्य को रुकने नहीं दिया जाएगा।उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के नेतृत्व में  चुनाव के दौरान किए गए 10 गारंटी वायदों को पूरा करने के लिए वचनबद्ध है और सभी मंत्री मंडल के सदस्य व विधायक प्रदेश में जन कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से हिमाचल को शिखर की ओर ले जाने का प्रयास करेंगे। 

इस अवसर पर उन्होंने मंत्रिमंडल में शामिल हुए सभी सदस्यों को शुभकामनाएं दी।उन्होंने बताया कि उन्होंने अपने जीवन के महत्वपूर्ण वर्ष वर्तमान मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के नेतृत्व में कार्य करते गुजारा है उन्होंने बताया कि 1990 में एनएसयूआई कार्यकर्ता के रूप में व युवा कांग्रेस के कई पदों पर वर्तमान मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के साथ कार्य किया है इसके अतिरिक्त कांग्रेस पार्टी के अंतर्गत प्रदेश अध्यक्षा विद्या स्टोक्स, दिवंगत मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह व प्रतिभा सिंह  के साथ कार्य किया है।उन्होंने कहा कि घुमारवीं की जनता ने मुझे दोबारा कार्य करने का मौका दिया है और मेरी  प्राथमिकता है कि लोगों ने जो  जिम्मेवारी सौंपी है उसे निभाया जाए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के नेतृत्व में अगले 5 वर्ष एकजुट होकर कार्य किया जाएगा।

   

Vishal Verma

20 वर्षों के अनुभव के बाद एक सपना अपना नाम अपना काम । कभी पीटीसी चैनल से शुरू किया काम, मोबाईल से text message के जरिये खबर भेजना उसके बाद प्रिंट मीडिया में काम करना। कभी उतार-चड़ाव के दौर फिर खबरें अभी तक तो कभी सूर्या चैनल के साथ काम करना। अभी भी उसके लिए काम करना लेकिन अपने साथियों के साथ third eye today की शुरुआत जिसमें जो सही लगे वो लिखना कोई दवाब नहीं जो सही वो दर्शकों तक