ट्राइबल टुडे द्वारा निर्मित सीमा सड़क संगठन के शौर्य गाथा डॉक्यूमेंट्री का मुख्यमंत्री ने किया विमोचन

सीमा सड़क संगठन के लेफ्टिनेंट जनरल ने भी की ट्राइबल टुडे की प्रशंसा।

22 सितम्बर से 26 सितंबर के बीच लाहुल स्पिति में भारी हिमपात के कारण रोहतांग समेत कुंजम दर्रा तथा बरालचला जैसे दर्रे बन्द हो गए थे तथा हजारों पर्यटक लाहुल स्पिति तथा लेह के रास्ते मे फंस गए थे।सीमा सड़क संगठन के दीपक परियोजना के तीन आरसीसी जिनमे 70 आरसीसी,94 आरसीसी तथा 108 आरसीसी ने अपना बहरीन कार्य का प्रदर्शन दिया था तथा रात दिन एक कर इन विकट भौगोलिक परिस्थितियों वाले दर्रों को खोल कर पर्यटकों तथा विशेषकर जनजातीय लोगों को राहत प्रदान की थी।इस मिशन में गर्ग कम्पनी तथा रोहतांग सुरंग निर्माण कम्पनी की मशीनें भी बहुत काम आयी थी।यही नही सीमा सड़क संगठन की सुरंग परियोजना तो लाइफ लाइन ही सावित हुई थी। मिशन रोहतांग नाम से एक डॉक्यूमेंट्री बनाई जिसे सीमा सड़क संगठन का शौर्या गाथा नाम गया।यह जानकारी ट्राइबल टुडे के सम्पादक शाम आज़ाद ने दी है।आज कुल्लू के ऐतिहासिक लाल चन्द प्रार्थी कलाकेंद्र में प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने इस डॉक्यूमेंट्री के पोस्टर फ्रेम का विमोचन कर सीमा सड़क संगठन के रोहतांग सुरंग परियोजना तथा दीपक परियोजना की अथक मेहनत की मुक्तकंठ प्रशंसा की।

उन्होंने ट्राइबल टुडे समूह को भी इस विकट भौगोलिक परिस्थितियों में डॉक्यूमेंट्री बनाने पर बधाई दी।वहीं प्रदेश के वन,परिवहन तथा युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर से भी सीमा सड़क संगठन के दोनों परियोजनाओं की तारीफ करते हुए कहा कि स्वयं मैं मनाली का विधायक होने के नाते भी इन दोनों परियोजनाओं के कार्यशैली से वाकिफ हूँ।समय समय पर इन परियोजनाओं ने अपना बेहतरीन किया है।उन्होंने ट्राइबल टुडे ग्रुप की भी इस डॉक्यूमेंट्री बनाने की तारीफ करते हुए कहा है कि यह डॉक्यूमेंट्री आने वाले समय के लिए एक स्मृति भी रहेगी।उन्होंने कहा कि 1955 के बाद 2018 में लाहुल के इतिहास में इतना अधिक हिमपात हुआ था।सीमा सड़क के दोनों परियोजनाओं के कारण तथा प्रदेश में जय राम सरकार और केंद्र में मोदी सरकार के कारण बचाब कार्य शानदार हुए थे जिसके लिए सभी लोग बधाई के पात्र हैं।गोविंद ने कहा कि हमने खुद देखा था कैसे इनके ब्रिगेडियर रेंक के अधिकारियों ने भी अस्थायी तम्बू में जिंगजिंगबार जैसे जगह में रातें काट कर भी इन सड़कों को बर्फ की कैद से मुक्त करवा कर आम जनमानस के तकलीफ को कम किया था।

उधर सीमा सड़क संगठन के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल अति विशिष्ट सेवा मेडल एवं विशिष्ट सेवा मैडल हरपाल सिंह ने भी ट्राइबल टुडे समूह को इस डॉक्यूमेंट्री को बनाने की बधाई दी है।उधर पूर्व अतिरिक्त महानिदेशक मोहनलाल, पूर्व ब्रिगेडियर मनोज कुमार, रोहतांग सुरंग परियोजना के मुख्य अभियंता के पी पुरशोथमन,ब्रिगेडियर एम एन चन्द्रना, ब्रिगेडियर डी एन भट्ट,ब्रिगेडियर डी के त्यागी,कर्नल योगेश नायर,कर्नल ए के अवस्थी,कर्नल के पी राजेन्द्र कुमार,कर्नल उमाशंकर, कर्नल आर एस राव,कर्नल परीक्षित मेहरा के इलावा बीआरओ के कई अधिकारियों ने ट्राइबल टुडे के कार्य की सराहना की है।इस अवसर पर मंडी लोकसभा क्षेत्र के सांसद राम स्वरूप शर्मा, कुल्लू सदर के विधायक सुंदर ठाकुर,पूर्व विधायक राजा महेश्वर सिंह,एपीएमसी के अध्यक्ष राम सिंह ,पूर्व राज्य महिला आयोग के अध्यक्षा धनेश्वरी ठाकुर,कुल्लू के उवायुक्त ऋचा वर्मा,पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह,लाहुल स्पिति के वरिष्ठ भाजपा नेता युवराज बौद्ध, नार्थ के प्रबन्ध निदेश राहुल भूषण सीमा सड़क संगठन के कैप्टन अश्विन त्रिपाठी ओर कैप्टन अनिरुद्ध कृपाल सिंह के इलावा कई गण मान्य लोग उपस्थित थे।

 

Third Eye Today

We’ve built a community of people enthused by positive news, eager to participate with each other, and dedicated to the enrichment and inspiration of all. We are creating a shift in the public’s paradigm of what news should be.

Leave a Reply

Your email address will not be published.