PWD मंत्री ने मंडी में किए करोड़ों की योजनाओं के उदघाटन व शिलान्यास

Spread the love

प्रदेश सरकार के पीडब्ल्यूडी मंत्री विक्रमादित्य सिंह का कहना है कि प्रदेश सरकार और संगठन में बेहतर तालमेल है। यहां किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं किया जा रहा है। हर बात को मिल बैठकर सुलझाना ही हमारा दायित्व है। यह बात उन्होंने मंडी में पत्रकारों के सवालों के जवाब में कही।

विधानसभा क्षेत्र के दौरे के दौरान  विक्रमादित्य सिंह  ने  करोड़ों की योजनाओं के उदघाटन, शिलान्यास और भूमि पूजन किए। इसमें मंडी सदर के विधायक के घर के पास 3 करोड़ की लागत से बना पुल भी शामिल है। पहले यहां पर लकड़ी का पुल होता था पूर्व सरकार के समय में इसका निर्माण कार्य शुरू हुआ था। अब इस पुल के बन जाने से एक दर्जन से अधिक की आबादी लाभान्वित होगी।

मंडी सदर विधानसभा क्षेत्र के दौरे पर उनके साथ कांग्रेस पार्टी की प्रदेशाध्यक्षा एवं मंडी की सांसद प्रतिभा सिंह भी मौजूद रही। अपने गृह क्षेत्र आने पर भाजपा विधायक अनिल शर्मा ने उनका स्वागत किया। विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि संगठन की सोच पर ही सरकार काम कर रही है। ओपीएस जैसी गारंटी को पूरा किया जा चुका है, जबकि बाकी गारंटियों को भी पूरा करने की दिशा में कार्य चल रहा है। आपदा के कारण इनमें थोड़ा बिलम्ब हुआ है। लेकिन जल्द ही सरकार सभी गारंटियों को पूरा करेगी।

 विक्रमादित्य सिंह के मंडी सदर के दौरे से पहले ही विधायक अनिल शर्मा के पुत्र आश्रय शर्मा ने सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर कटाक्ष कर दिया था। आश्रय शर्मा ने लिखा था कि विक्रमादित्य सिंह ऐसे उद्घाटन करने के लिए आ रहे हैं जो कई वर्षों पहले ही हो चुके हैं। इस पर पूछे गए सवाल के जवाब में विक्रमादित्य सिंह ने हंसते हुए जवाब देकर कहा कि आश्रय शर्मा की टिप्पणी पर अनिल शर्मा ही बेहतर बता सकते हैं।

उन्होंने स्पष्ट किया कि वे सड़कों के अपग्रेडेशन के कार्यों का शुभारंभ कर रहे हैं। यह कार्य पूरे प्रदेश में किए जा रहे हैं, ताकि लोगों को बेहतर सड़क सुविधा मिल सके। उन्होंने कहा कि कौन क्या टिप्पणी कर रहा है उस पर वे टिप्पणी नहीं करना चाहते।

Vishal Verma

20 वर्षों के अनुभव के बाद एक सपना अपना नाम अपना काम । कभी पीटीसी चैनल से शुरू किया काम, मोबाईल से text message के जरिये खबर भेजना उसके बाद प्रिंट मीडिया में काम करना। कभी उतार-चड़ाव के दौर फिर खबरें अभी तक तो कभी सूर्या चैनल के साथ काम करना। अभी भी उसके लिए काम करना लेकिन अपने साथियों के साथ third eye today की शुरुआत जिसमें जो सही लगे वो लिखना कोई दवाब नहीं जो सही वो दर्शकों तक