28 जून से शुरू हुआ महाक्विज का पांचवां राउंड डॉ. सैजल ने किया शुभारम्भ

 

 

हिमाचल में पहली बार आयोजित हो रहे ‘जनभागीदारी से सुशासन- हिमाचल का महाक्विज’ के पांचवें राउंड का शुभारंभ स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा आयुष मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने आज डॉ. यशवंत सिंह परमार वानिकी एवं बागवानी विश्वविद्यालय नौणी, सोलन से किया। 12 जुलाई तक चलने वाले महाक्विज के पांचवें राउंड की थीम ‘स्वस्थ हिमाचल-समृद्ध हिमाचल’ रखी गई है। इसमें प्रतिभागियों से स्वास्थ्य क्षेत्र से जुड़े सवाल पूछे जाएंगे। इस राउंड में भी बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले प्रतिभागियों को एक-एक हज़ार की इनामी राशि दी जाएगी। डॉ. सैजल ने इस अवसर पर कहा कि हिमाचल में पहली बार केंद्र और प्रदेश सरकार की योजनाओं पर आधारित एक ऑनलाइन प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है। इसे ‘जनभागीदारी से सुशासन-हिमाचल का महाक्विज’ नाम दिया गया है। महाक्विज का उद्देश्य केंद्र और राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की ज्यादा से ज्यादा जानकारी लोगों तक पहुंचाना है ताकि जागरूकता के माध्यम से सभी योजनाओं का लाभ उठा सके और लक्षित वर्ग इनसे अछूता न रहे। महाक्विज के कुल आठ राउंड हैं जिनमें से तीन राउंड पूरे हो चुके हैं।

  

आयुष मंत्री ने कहा कि विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को समझकर अन्य को जागरूक बनाना ही महाक्विज का उद्देश्य है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सोच में परिवर्तन के माध्यम से सुशासन और सेवा की नई ईबारत लिख रहे हैं। कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए टीकाकरण कार्यक्रम के माध्यम से देश के जन-जन का डर हटाया गया है और सभी में आशा का नया संचार हुआ है। डॉ. सैजल ने सभी से आग्रह किया कि निरोग रहने के लिए नियमित रूप से योग और प्राणायाम करें। उन्होंने सभी से महाक्विज खेलने का आग्रह भी किया। उन्होंने कोविड-19 महामारी के समय में बेहतरीन कार्य के लिए आशा कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने आशा कार्यकर्ताओं के मानदेय में समुचित वृद्धि की है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के मिशन निदेशक हेम राज बैरवा ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए महाक्विज के पांचवें राउंड की विस्तृत जानकारी प्रदान की। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से स्वास्थ्य योजनाओं से जन-जन को लाभान्वित कर रही है। क्विज के प्रश्न भी जानकारी प्रदान करने के अनुरूप तैयार किए गए है।

   

ज़िला कार्यक्रम अधिकारी डॉ. गगन दीप राज हंस ने कोविड-19 की विस्तृत जानकारी प्रदान की। ज़िला आयुर्वेदिक अधिकारी डॉ. प्रवीण शर्मा ने योग, प्राणायाम और आयुर्वेद के माध्यम से स्वास्थ्य रक्षा के विषय में जानकारी प्रदान की। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजन उप्पल ने सभी का स्वागत किया। इस अवसर पर सहारा योजना के लाभार्थी कमलजीत सिंह, आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थी जगदेव सिंह, हिमकेयर योजना के लाभार्थी कमल कुमार गुलेरिया तथा टेली कंसलटेंशन योजना की लाभार्थी लता देवी ने अपने अनुभव साझा किए। इस अवसर पर ज़िला परिषद की पूर्व अध्यक्ष शीला, उपमण्डलाधिकारी सोलन विवेक शर्मा, उप पुलिस अधीक्षक संतोष शर्मा, ज़िला कार्यक्रम अधिकारी डॉ. शालिनी, स्वास्थ्य शिक्षिका सुषमा शर्मा, आशा कार्यकर्ता, नर्सिंग महाविद्यालय की छात्राएं एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Vishal Verma

We’ve built a community of people enthused by positive news, eager to participate with each other, and dedicated to the enrichment and inspiration of all. We are creating a shift in the public’s paradigm of what news should be.