जिला बिलासपुर में युवा नेतृत्व एवं सामुदायिक विकास विषय पर तीन दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का हुआ समापन

नेतृत्व गुण युवाओं में अनुसाशन व आत्मविश्वास पैदा करते है जो समाज को साकारात्मक दिशा दिखाने के लिए अत्यंत आवश्यक है पुलिस अधीक्षक बिलासपुर राजकुमार ने नेहरू युवा केन्द्र द्वारा आयोजित तीन दिवसीय युवा नेतृत्व एवं सामुदायिक विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम के समापन अवसर पर यह विचार व्यक्त किये।
उन्होने कहा कि युवाओं से समाज को अनेक अपेक्षाएं है जिसके लिए युवा उत्साह के साथ कार्य करने के लिए अपने को अग्रसर करें। उन्होेने कहा कि युवा नशे व अपराधों से दूर रहकर अपने स्वर्णीम भविष्य के निर्माण के लिए लगन के साथ कार्य करें। समाज मे व्याप्त विभिन्न कुरीतियों को दूर करने तथा सामाजिक समरस्ता पैदा करने के लिए युवाओं की जिम्मेदारी अत्यंत महत्वपूर्ण है। उन्होने मोटर वाहन अधीनियम के अन्तर्गत वाहन चलाते समय प्रयोग की जाने वाली सावधानियों तथा विभिन्न कानूनी पक्षो की जानकारी दी जोकि युवा आवस्था के लिए अत्यंत महत्वपुर्ण है। उन्होने प्रतिभागियों को प्रशस्ती पत्र प्रदान किये तथा युवक मण्डल गैहरा, सलोआ, धौलाधार, पटेर रिगंली तथा भटेड़ को खेल किट भी प्रदान की गई।

तीन दिवसीय कार्यक्रम में गत दिवस राजकीय महाविद्यालय बिलासपुर के प्रो0 जगदीश ने रोल ऑफ युथ इन नेशन विल्डिंग, अन्तर्राष्ट्रीय कब्बडी खिलाडी प्रियंका नेगी ने लीडरशिप क्वालिटी इन स्पोर्टस, उपायुक्त कार्यालय में कार्यरत आईटी सैल के अनुज शर्मा ने डिजिटलाइजेशन विषयों पर अपने विचार व्यक्त किये।
कार्यक्रम के अतिंम दिन वितिय शाक्षरता सलाहकार बिलासपुर बीडी सांखायान ने बैकिंग फ्रॉड के अतिरिक्त विभिन्न सरकारी योजनाओं की जानकारी दी। जिला भाषा अधिकारी  रेवती सैनी नेे युवाओं में नेतृत्व गुणों के सुदृढीकरण के लिए किये जाने वाले प्रयासों पर प्रकाश डाला। महिला बाल विकास अधिकारी हरीश मिश्रा ने युवाओं को आगे बढने के लिए प्रेररक मार्गदर्शन दिया।
युवा कार्यक्रम अधिकारी नेहरू युवा केन्द्र बिलासपुर प्रियंका राणा ने युवाओं को तीन दिवसीय कार्यक्रम मे भाग लेने के लिए आभार व्यक्त किया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में विभिन्न सत्रों की चर्चा के दौरान निकल कर आये विचार बिन्दुओं को अपने जीवन में आत्मसात कर नेतृत्व क्षमता को ग्रहण कर सामुदायिक विकास के लिए आगे आने की अपील की। उन्होने तीन दिन के इस आयोजन में युवाओं का मार्गदर्शन करने के लिए आये सभी गणमान्य व्यक्तियों का भी आभार व्यक्त किया।

   

Vishal Verma

20 वर्षों के अनुभव के बाद एक सपना अपना नाम अपना काम । कभी पीटीसी चैनल से शुरू किया काम, मोबाईल से text message के जरिये खबर भेजना उसके बाद प्रिंट मीडिया में काम करना। कभी उतार-चड़ाव के दौर फिर खबरें अभी तक तो कभी सूर्या चैनल के साथ काम करना। अभी भी उसके लिए काम करना लेकिन अपने साथियों के साथ third eye today की शुरुआत जिसमें जो सही लगे वो लिखना कोई दवाब नहीं जो सही वो दर्शकों तक