जिला बाल संरक्षण इकाई द्वारा एक दिवसीय बाल संरक्षण जागरूकता शिविर का किया गया आयोजन

जिला बाल संरक्षण इकाई चंबा के तत्वावधान में आज पंचायत समिति हॉल में एक दिवसीय बाल संरक्षण जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर की अध्यक्षता जिला कार्यक्रम अधिकारी राकेश कुमार ने की। शिविर में जिला कार्यक्रम अधिकारी राकेश कुमार ने प्रतिभागियों को प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना , बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, बेटी है अनमोल, विधवा विवाह इत्यादि के बारे में उपस्थित महिलाओं को जानकारी प्रदान की तथा उन्हें इन योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने का आह्वान किया। प्रशिक्षण शिविर में विधि एवं परिवीक्षा अधिकारी माला शर्मा ने प्रशिक्षुओं को बाल संरक्षण अधिनियम,गुड टच वैड टच तथा जिला चंबा में कार्यरत सखी वन स्टॉप सेंटर के कार्यों इत्यादि के बारे में विस्तृत जानकारी दी। इसके उपरांत शिविर में बाल संरक्षण अधिकारी रिंकू शर्मा ने शिविर में आए प्रतिभागियों को मिशन वात्सल्य, किशोर न्याय अधिनियम, बाल विवाह, बाल मजदूरी, दत्तक ग्रहण बच्चों के अधिकारों व बच्चों में नशे के कुप्रभावों तथा ग्रामीण स्तर पर मिशन वात्सल्य के अंतर्गत बनाई जाने वाली ग्रामीण बाल सरंक्षण समिति के बारे में विस्तृत जानकारी दी।

इसके अतिरिक्त पोषण अभियान से जिला समन्वयक विकास शर्मा ने व्यक्तिगत स्वच्छता और पोषण से संबंधित चलाई जा रही जिला चंबा में योजनाओं की जानकारी दी । नवजात तथा धात्री महिलाओं को पौष्टिक आहार लेने के लिए प्रेर करने के लिए कहा l शिविर में चाइल्डलाइन समन्वयक कपिल शर्मा ने चाइल्डलाइन चंबा  द्वारा किए जा रहे कार्यों का विवरण रखा और बच्चों में बढ़ रहे नशे की प्रवृत्ति तथा  किशोरियों को समय पर परामर्श प्रदान करने का आह्वान किया। कार्यक्रम में जिला बाल संरक्षण इकाई से बाल सरंक्षण अधिकारी अजय कुमार ,परामर्शदाता स्नेह शर्मा, सामाजिक कार्यकर्ता बबिता, निशांत, लेखाकार केशव , आउटरीच कार्यकर्ता रमन कुमार व बबली देवी आंगनवाड़ी सुपरवाइजर आंगनबाडी कार्यकर्ता व  वन स्टॉप सेंटर के कर्मचारियों सहित बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया ।

   

Vishal Verma

20 वर्षों के अनुभव के बाद एक सपना अपना नाम अपना काम । कभी पीटीसी चैनल से शुरू किया काम, मोबाईल से text message के जरिये खबर भेजना उसके बाद प्रिंट मीडिया में काम करना। कभी उतार-चड़ाव के दौर फिर खबरें अभी तक तो कभी सूर्या चैनल के साथ काम करना। अभी भी उसके लिए काम करना लेकिन अपने साथियों के साथ third eye today की शुरुआत जिसमें जो सही लगे वो लिखना कोई दवाब नहीं जो सही वो दर्शकों तक